Thursday, March 21, 2019
Follow us on
Haryana

करनाल सिटी ओडीएफ प्लस, 4 हजार 41 शहरों में 43वां रैंक मिला

January 11, 2019 05:36 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR JAN 11
करनाल सिटी ओडीएफ प्लस, 4 हजार 41 शहरों में 43वां रैंक मिला
उपलब्धि : गुरुग्राम और रोहतक पहले हो चुके हैं ओडीएफ प्लस, अब डबल ओडीएफ प्लस की तैयारी में निगम

करनाल. लघु सचिवालय में स्थित ई-शौचालय।
भास्कर न्यूज | करनाल
करनाल अर्बन ओडीएफ प्लस हो गया है। गुरुवार को केंद्रीय आवासन एवं शहरी मंत्रालय की ओर से इसकी अधिकारिक घोषणा की गई। देश के 4 हजार 41 शहरों की स्वच्छता रैंकिंग में करनाल ने 43वां रैंक हासिल किया है।
कैसे हुआ ओडीएफ प्लस: अक्टूबर-नवंबर में शहर को ओडीएफ प्लस घोषित कर दिया था, लेकिन इसकी अधिकारिक घोषणा 10 जनवरी को हुई। बीते 28-29 दिसंबर को ओडीएफ प्लस के लिए थर्ड पार्टी इंस्पेक्शन हुई थी, जिसमें शहर की करीब 28 लोकेशन पर स्थित शौचालयों का निरीक्षण किया गया। इनमें अलग-अलग कैटेगरी के शौचालय शामिल रहे, जो स्वच्छ, अति स्वच्छ व महत्वाकांक्षी की श्रेणियों में थे। यह शौचालय स्लम बस्ती, आवासीय व व्यापारिक क्षेत्र, सार्वजनिक जगहों पर, ट्रांसपोर्ट हब, शिक्षण संस्थाओं, सड़कों व गलियों में स्थित हैं। वार्ड नंबर-20 में पड़ने वाली कर्ण लेक और वार्ड नंबर-4, 5 व 6 में पड़ने वाली आवर्धन नहर के जलस्रोतों का भी निरीक्षण किया गया। इन सभी में स्वच्छता के लिहाज से सभी मापदंड पूरे किए गए थे।
थर्ड पार्टी निरीक्षण के दौरान सारे शौचालय मिले थे साफ
मेयर रेणू बाला गुप्ता ने बताया कि क्वालिटी कंट्रोल ऑफ इंडिया के थर्ड पार्टी निरीक्षण के दौरान शौचालयों की उपरोक्त 28 लोकेशन्स में से 18 का निरीक्षण किया गया था। सभी स्वच्छ पाए जाने के बाद ओडीएफ प्लस का स्टेटस मिला। टीम के निरीक्षण के बाद 8 शौचालय अति स्वच्छ, 8 स्वच्छ व सुंदर तथा 2 महत्वाकांक्षी आंके गए। इससे पहले प्रदेश के रोहतक और गुरुग्राम भी ओडीएफ प्लस घोषित हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि करनाल अर्बन की कुल 2 लाख 86 हजार 974 आबादी में 20 वार्ड हैं, जिनमें 38 सामुदायिक शौचालय, 127 सार्वजनिक शौचालय तथा 43 उत्कृष्ट श्रेणी के शौचालय स्थापित हैं

 
Have something to say? Post your comment