Sunday, May 26, 2019
Follow us on
Haryana

HARYANA-स्टेट बजट की राशि जारी न होने पर आशा वर्करों ने सरकार के खिलाफ दिया सिविल अस्पताल में ध

January 11, 2019 05:29 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR JAN 11

स्टेट बजट की राशि जारी न होने पर आशा वर्करों ने सरकार के खिलाफ दिया सिविल अस्पताल में धरना
प्रधान नीलम ने कहा-जब तक उनकी मांग पूरी नहीं हो जाती है तब तक उनका धरना जारी रहेगा

आशा वर्कर्स यूनियन ने पेमेंट के भुगतान करने की मांग को लेकर गुरुवार को सिविल अस्पताल में धरना दिया। इसकी अध्यक्षता जिला प्रधान नीलम ने की। मंच संचालन राजबाला ने किया। इस दौरान सीटू के जिला सचिव का. रमेशचंद्र ने कहा कि भाजपा सरकार ने आशा वर्करों के साथ हुए समझौते को लागू नहीं कर रही है। अभी तक भी अधिकतर जिलों में स्टेट बजट की राशि जनवरी 2018 से ही नहीं आई है।
ऐसी हालात में परिवार का गुजारा चलाना असंभव हो रहा है। स्टेट बजट की राशि की मांग को लेकर बार-बार सरकार से आहवान किय जा चुका है। प्रधानमंत्री द्वारा घोषित प्रोत्साहन राशियों को भी लागू नहीं किया जा रहा है। यूनियन ने हड़ताल वापस लेने एवं जिला पर धरने के रूप में आंदोलन जारी रखने कर निर्णय लिया है। प्रधान नीलम ने कहा कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं हो जाती है तब तक उनका धरना जारी रहेगा और जल्द ही पेमेंट का भुगतान नहीं हुआ तो सरकार के खिलाफ बड़ा आंदोलन शुरू कर दिया जाएगा।
जींद. सिविल अस्पताल में सरकार के खिलाफ रोष प्रकट करती आशा वर्कर।
एसडीओ के विरोध में बिजली कर्मियों ने की नारेबाजी
नरवाना | बिजली निगम एसडीओ के खिलाफ कर्मचारियों का गुरुवार चौथे दिन भी धरना जारी रहा। धरने की अध्यक्षता रामफल नैन प्रधान एएचपीसी वर्कर यूनियन ने की। यह धरना एसडीओ द्वारा कर्मचारियों को गलत तरीके से प्रताडि़त करने व झूठी एफआईआर दर्ज करवाने के विरोध में लगातार जारी है। एएचपीसी वर्कर यूनियन मांग करती है कि इन समस्याओं का समाधान बातचीत द्वारा किया जाए। अन्यथा एएचपीसी वर्कर यूनियन उपमंडल अधिकारी के खिलाफ बड़ा आंदोलन करने के लिए मजबूर होगी। जिसकी पूरी जिम्मेवारी एसडीओ सिटी नरवाना की होगी। धरने पर विशेष रूप से राज्य प्रधान सुरेश राठी, सर्कल सैकेटरी रामफल दलाल, धर्मबीर शर्मा, कृष्ण खटकड़ यूनिट प्रधान, कृष्ण श्योराण यूनिट सचिव, प्रैस सचिव सुनील श्योकंद, ईश्वर सच्चा खेड़ा, महताब उचाना, अशोक नैन, प्रदीप बेलरखा, मनोहर, सुभाष शर्मा, शिव कुमार गोयत व अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

 
Have something to say? Post your comment