Sunday, January 20, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
गुस्ताखी माफ हरियाणा ने की छत्रपति के नाम पर सालाना पत्रकार पुरस्कार की घोषणाइनेलो विधायक संधू के निधन के बाद अभय चौटाला के हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता पर संशय ?जवानों में मिली ऑपरेशन श्रीमान की एक झलक --ठंड में भी नाईट डोमेशन के दौरान पुलिस रही अलर्टयोगी सरकार कुंभ पर पैसों की बर्बादी कर रही है: ओमप्रकाश राजभरकोलकाता: मोदी और शाह के इरादे बहुत खतरनाक- अरविंद केजरीवालमनोहर लाल ने पिहोवा से विधायक श्री जसविंद्र सिंह संधू के निधन पर गहरा दुख व्यक्त कियाहरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुजरात में रखी हरियाणा भवन की आधारशिलाकोलकाता: सपा-बसपा गठबंधन से देश में खुशी की लहर -अखिलेश यादव
Haryana

JIND- भाजपा से नाराजगी : सुरेंद्र बरवाला नहीं उतरेंगे प्रचार में, 15 को वर्करों की मीटिंग कांग्रेस, इनेलो और जेजेपी के आॅफर नहीं किए स्वीकार, मांगेराम गुप्ता नहीं करेंगे किसी का प्रचार

January 11, 2019 05:28 AM

COURTESY DAINIK  BHASKAR JAN 11

भाजपा से नाराजगी : सुरेंद्र बरवाला नहीं उतरेंगे प्रचार में, 15 को वर्करों की मीटिंग
कांग्रेस, इनेलो और जेजेपी के आॅफर नहीं किए स्वीकार, मांगेराम गुप्ता नहीं करेंगे किसी का प्रचार

कृष्ण मिड्ढा को टिकट देने से भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रत्याशी सुरेन्द्र बरवाला पार्टी से नाराज हो गए है। बरवाला ने फिलहाल चुनाव प्रचार से दूर रहने का फैसला करते हुए 15 जनवरी को अपने आवास पर वर्कर मीटिंग बुलाई है। दूसरी ओर बुधवार को दिन भर कांग्रेस व इनेलो और सुबह तक जेजेपी की ओर से आए टिकट के आॅफर बरवाला ने ठुकरा दिए।
भाजपा ने बुधवार सुबह ही जींद उपचुनाव के लिए इनेलो के दिवंगत विधायक डॉ. हरिचंद मिड्ढा के बेटे डॉ. कृष्ण मिड्ढा को टिकट देने की घोषणा की थी जबकि सुरेन्द्र बरवाला पार्टी टिकट के लिए मुख्य दावेदार थे। टिकट की घोषणा होते ही बरवाला के समर्थक उनके घर जमा होने शुरू हो गए थे। पार्टी के फैसले से नाराज बरवाला सुबह से शाम तक घर से ही नहीं निकले। इसके बाद कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला की ओर से बरवाला को कांग्रेस की ओर से चुनाव लड़ने का ऑफर दिया, लेकिन उन्होंने स्वीकार नहीं किया। इसके बाद बहादुरगढ़ से इनेलो के 3 बार विधायक रह चुके नफे सिंह राठी व एक अन्य ने उनके घर आकर टिकट का आॅफर दिया।
यहीं नहीं देर रात कांग्रेस की ओर से रणदीप सुरजेवाला को उम्मीदवार बनाने के लिए रात को लगभग 11:30 बजे सांसद दुष्यंत चौटाला उनके घर पहुंचे थे, लेकिन बात नहीं बनी। सुबह लगभग 8:15 बजे एक बार फिर दुष्यंत चौटाला ने प्रयास किया परंतु बरवाला ने हामी नहीं भरी। वहीं अब भाजपा को अपनी नाराजगी दिखाने के लिए बरवाला ने चुनाव प्रचार में नहीं उतरने का फैसला किया है। चुनाव को अगली रणनीति 15 जनवरी को होने वाली वर्कर मीटिंग में बनाई जाएगी।
: कुलदीप बिश्नोई बने सारथी...गाड़ी में सवार हुए हुड्डा, शैलजा और रणदीप
मांगेराम गुप्ता बोले...उपचुनाव में नहीं करूंगा किसी का भी प्रचार
जींद उपचुनाव सभी पार्टियों के चहेते बनकर उभरे पूर्व मंत्री मांगेराम गुप्ता ने चुनाव के दौरान किसी भी पार्टी का प्रचार नहीं करने की बात कही है। वह किसी भी पार्टी के मंच पर नहीं जाएंगे और घर से अपने समर्थकों से वोट देने की अपील करूंगा। चुनाव इनेलो, भाजपा, जेजेपी और कांग्रेस में से किसी ने भी वैश्य समुदाय को टिकट नहीं दी है। जींद विधानसभा क्षेत्र में वैश्य समुदाय के लगभग 14 हजार वोट है। इन वोटों पर मांगेराम गुप्ता अच्छा खासा असर रखते हैं। पूर्व मंत्री बृज मोहन सिंगला के बेटे अंशुल सिंगला ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन किया है।
दिग्विजय व मिड्ढा ने दो बार तो रेढू ने तीन बार जमा करवाया नामांकन
जींद | गुरुवार को अंतिम दिन उम्मीदवारों का नामांकन भरने का दौर दिन भर जारी रहा। भाजपा से प्रत्याशी डॉ. कृष्ण मिढ़ा ने गुरुवार को दो बार नामांकन भरा। उन्होंने सुबह अपने समर्थकों के साथ नामांकन फार्म भरने पहुंचे, लेकिन दोपहर को वह फिर से पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ नामांकन जमा करवाने पहुंचे। इसी प्रकार से जेजेपी से उम्मीदवार दिग्विजय चौटाला ने पहले पार्टी नेताओं के साथ नामांकन सौंप दिया था, लेकिन कुछ ही देर में सांसद दुष्यंत चौटाला पहुंच गए और उन्होंने दोबारा अपने भाई के साथ नामांकन फार्म जमा करवाया। इसके अलावा इनेलो से प्रत्याशी उमेद रेढू ने 2 दिन में 3 बार नामांकन दाखिल किया। बुधवार को उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन जमा करवाया था जबकि गुरुवार को सुबह पहले जुलाना से विधायक परमेंद्र ढुल के साथ नामांकन जमा करवाया और दोपहर को नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला व अन्य नेताओं के साथ नामांकन दाखिल किया।
तीन मंत्री समर्थकों संग बाहर तो बाकी आए अंदर : भाजपा प्रत्याशी डॉ. कृष्ण मिढ़ा के नामांकन के दौरान समर्थकों की भीड़ के साथ कई मंत्री, सांसद व विधायक पहुंचे, लेकिन नामांकन जमा करवाने के दौरान केवल शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा, प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, सांसद रमेश कौशिक तथा विधायक प्रेमलता पहुंची जबकि सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर, कर्णदेव कंबोज कृष्णपाल गुर्जर तथा विपुल गोयल समर्थकों के साथ बाहर ही रुके।
नहीं दिखे विधायक जेपी और प्रमोद सहवाग
बेटे को कांग्रेस की टिकट दिलवाले के लिए दिन-रात एक करने वाले कलायत के विधायक जयप्रकाश पर रणदीप सिंह सुरजेवाला के नामांकन के दौरान दिखाई नहीं दिए। टिकट की घोषणा होने तक जेपी के बेटे का टिकट फाइनल होना माना जा रहा था, लेकिन कांग्रेस ने सबको चौंकाने वाला काम किया। वहीं पिछले चुनाव में प्रत्याशी रहे प्रमोद सहवाग भी नामांकन के दौरान नजर नहीं आए।
जींद. रिटर्निंग आॅफिसर के कार्यालय में नामांकन दाखिल के लिए पहुंचे पार्टी नेता।
रिटर्निंग आॅफिसर के कार्यालय में मिले दिग्गज : रिटर्निंग कार्यालय में अलग ही नजारा मिला, जब राजनीति के दिग्गजों का आमना-सामना एक बार फिर हो गया। जिस समय इनेलो उम्मीदवार को नामांकन भरवाने प्रतिपक्ष नेता अभय चौटाला पहुंचे तो उसी समय कांग्रेस उम्मीदवार रणदीप सुरजेवाला, पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा, प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर, पूर्व मंत्री कैप्टन अजय यादव, किरण चौधरी, विधायक कुलदीप बिश्नोई, कुमारी शैलजा भी पहुंच गए। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष व कांग्रेस के दिग्गज नेता ने गर्मजोशी से एक-दूसरे स्वागत किया। पूर्व सीएम हुड्डा और अभय चौटाला कई देर बातचीत करते नजर आए।
टिकट फाइनल के लिए कांग्रेस के सभी नेता दिल्ली में ही थे
कांग्रेस की ओर नामांकन भरने आए रणदीप सुरजेवाला के सारथी कुलदीप बिश्नोई बने। बताया जाता है कि टिकट फाइनल करने के लिए कांग्रेस के सभी दिग्गज नेता दिल्ली में ही थी। गुरुवार को दिल्ली से ही सभी एक साथ जींद के लिए रवाना हुए। कुलदीप बिश्नोई गाड़ी चला रहे थे और कुमारी शैलजा आगे की सीट पर बैठी हुई थी जबकि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा, रणदीप सुरजेवाला व पूर्व स्पीकार कुलदीप शर्मा पीछे बैठे हुए थे

 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
गुस्ताखी माफ हरियाणा ने की छत्रपति के नाम पर सालाना पत्रकार पुरस्कार की घोषणा इनेलो विधायक संधू के निधन के बाद अभय चौटाला के हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता पर संशय ?
जवानों में मिली ऑपरेशन श्रीमान की एक झलक --ठंड में भी नाईट डोमेशन के दौरान पुलिस रही अलर्ट
मनोहर लाल ने पिहोवा से विधायक श्री जसविंद्र सिंह संधू के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया
अब हरियाणा में पुलिस इंस्पेक्टरों की तैनाती और तबादले पुलिस स्थापना कमेटी तय करेगी
हिसार पुलिस का अनोखा कारनामा
HR CM CITY KARNAL-प्रशासन ने टेके घुटने, विवाद बढ़ने पर शाम को पहुंचे एसपी, नहीं माने पीड़ित, बोले-हमें दिलासा नहीं, गिरफ्तारी चाहिए NARINGARH- वित्तीय संकट में नपा, न मिल रहा अस्थाई कर्मियों को वेतन और न ही स्ट्रीट लाइट का बिल भरा लापरवाही : पांच महीने से नहीं हुई नपा की बैठक, बकाया वसूलने में भी असफल साबित हुए अफसर RAILWAYS-यात्रियों को खाने का बिल नहीं दिया तो फ्री देना होगा भोजन नो बिल फ्री फूड पॉलिसी : आईआरसीटीसी के आदेशों के बाद स्टॉल संचालकों ने वेंडरों को दिए नि कंडेला-28 पर टिकी निगाहें : 5 घंटे के अंतराल में खट्‌टर-हुड्‌डा समेत सभी दल पहुंचे कंडेला गांव कंडेला के घर समर्थक बोले- टेकराम को राज्यसभा भेजो या राज्यपाल बनाओ