Thursday, January 17, 2019
Follow us on
Haryana

इनेलो ने जींद के धरतीपुत्र उमेद सिंह रेढू को जींद उप-चुनाव में पार्टी प्रत्याशी बनाया

January 10, 2019 07:17 PM

चंडीगढ़, 10 जनवरी: इनेलो ने जींद के धरतीपुत्र उमेद सिंह रेढू को जींद उप-चुनाव में पार्टी प्रत्याशी बनाया है। रेढू के नामांकन के मौके पर नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला, पार्टी प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, बसपा प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती के अलावा पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा और पूर्वमंत्री सुभाष गोयल व जिलाध्यक्ष रामफल कुंडू भी मौजूद रहे। रेढू जींद हलके के लोहचब गांव से हैं और वर्तमान में जींद जिला परिषद के उप-प्रधान हैं और इससे पूर्व वह नोर्थ इंडिया व हरियाणा बॉक्सिंग एसोसिएशन के उपप्रधान भी रहे हैं इसके अतिरिक्त वह जींद बॉक्सिंग एसोशिएसन के प्रधान पद पर भी कार्य कर चुके हैं। आम जनता में उनकी छवि एक साधारण और सामाजिक आदमी की है।

इनेलो प्रत्याशी उमेद सिंह ने कहा कि वह जींद हलके की समस्याओं से भलीभांति अवगत हैं। जींद की जनता का सहयोग उन्हें मिलता है तो वह हलके के गांवों मेें पीने के पानी की समस्या का समाधान उनकी प्राथमिकता होगी। इसके अतिरिक्त गंदे पानी की निकासी और आवारा पशुओं के उत्पात का भी समाधान किया जाएगा। रेढू ने इस बात पर खेद व्यक्त किया कि ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ की बात करने वाली भाजपा के राज में जींद बेटियों की शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़ गया है। यदि जींद की जनता उन्हें चुनती है तो वह उनकी बेहतर शिक्षा और सुरक्षा के लिए काम करेंगे। अशोक अरोड़ा ने कहा कि उमेद सिंह रेढू जनता के उम्मीदवार हैं और यहां के लोगों के दुख-सुख से सरोकार रखते है। अशोक अरोड़ा ने कहा कि इस उपचुनाव में इनेलो की जीत तय है।
नेता विपक्ष ने कहा कि उमेद रेढू भारी मतों से जीतेंगे और यह चुनाव इनेलो-बसपा के लिए एकतरफा चुनाव है। उन्होंने भाजपा पर टिप्पणी करते हुए कहा कि प्रदेश की जनता भाजपा की जनविरोधी नीतियों से परेशान है और हर वर्ग आज उसके विरोध में सडक़ों पर उतारा हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि इस उपचुनाव में भाजपा की हार से उसके आगामी विधानसभा चुनाव में सत्ता से बाहर होने पर मुहर लग जाएगी।
अभय सिंह चौटाला ने कांग्रेस प्रत्याशी पर निशाना साधते हुए कहा कि रणदीप सिंह सुरजेवाला पहले से ही विधायक हैं, उनको तो कांग्रेस ने केवल भितरघात से बचने के लिए उम्मीदवार बनाया है। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेसियों को प्रदेशहित से कोई सरोकार नहीं है यह तो केवल मात्र निजी हितों के लिए लड़ रहे है।
अभय सिंह ने यह भी कहा कि सुरजेवाला से जींद की जनता को पूछना चाहिए कि विधायक होने के नाते वह कितनी बार विधानसभा के सत्र में गए और प्रदेशहित के कौन-कौन से मुद्दे उठाए? अभय सिंह ने कहा कि कांग्रेस का प्रत्याशी दिल्ली से इंपोर्ट किया गया है जो विधायक होने के बाद भी विधानसभा नहीं जाता। नवनिर्मित जेजेपी को आड़े हाथ लेते हुए उन्होंने कहा कि जेजेपी स्वार्थी और अति महत्वाकांक्षी लोगों का टोला है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय चौटाला को जीतने के लिए नहीं बल्कि पैसा इक्कठा करने के लिए उपचुनाव में उतारा गया है।

 
Have something to say? Post your comment