Tuesday, March 26, 2019
Follow us on
Business

हरियाणा की सहकारी चीनी मिलों ने चालू गन्ना पिराई मौसम के दौरान अब तक 105.37 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 9.33 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया

January 08, 2019 04:50 PM
हरियाणा की सहकारी चीनी मिलों ने चालू गन्ना पिराई मौसम के दौरान अब तक 105.37 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 9.33 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है।
        हरियाणा राज्य सहकारी चीनी मिल प्रसंघ के एक प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि शाहाबाद सहकारी चीनी मिल ने सर्वाधिक 19.51 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 1.83 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है, जबकि रोहतक सहकारी चीनी मिल ने 17.43 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 1.47 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। सहकारी चीनी मिल, कैथल ने 12.06 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 1.10 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है, जबकि सहकारी चीनी मिल, करनाल ने 11.07 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके एक लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। 
इसी प्रकार, सहकारी चीनी मिल, महम ने 11.15 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 88,500 क्विंटल चीनी, जबकि सहकारी चीनी मिल, पलवल ने 7.55 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 70,575 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। सहकारी चीनी मिल, गोहाना ने 7.97 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 66,120 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। सहकारी चीनी मिल, पानीपत ने 6.81 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 62,875 चीनी, जबकि सहकारी चीनी मिल, सोनीपत ने 2.83 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 22,000 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। 
प्रवक्ता ने बताया कि कि हैफेड चीनी मिल, असंध ने 12.65 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई करके 1.07 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश की सहकारी चीनी मिलों में अब तक की औसत शुगर रिकवरी 9.33 प्रतिशत रही है। 
 
Have something to say? Post your comment