Tuesday, March 26, 2019
Follow us on
Business

नई नीति से एमेजॉन को फूड रिटेल में मुश्किल

December 31, 2018 06:39 AM

COURDTESY NBT DEC 31`

ARIPL को फूड प्रॉडक्ट्स की फिजिकल स्टोर्स, ई-कॉमर्स के जरिए सोर्सिंग कर बिक्री करने की अनुमति मिली है
[ रसूल बैले | नई दिल्ली ]

ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए फॉरेन डायरेक्ट इनवेस्टमेंट (FDI) गाइडलाइंस में हाल के बदलावों से एमेजॉन इंडिया की फूड बिजनेस से जुड़ी कंपनी को लेकर प्रश्न उठे हैं। एमेजॉन के मौजूदा बिजनेस मॉडल पर भी इसका असर पड़ेगा।सूत्रों ने बताया कि एमेजॉन इस बारे में कानूनी राय ले रही है कि एमेजॉन रिटेल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (ARIPL) उसके प्लेटफॉर्म पर बिक्री जारी रख सकती है या उसे 1 फरवरी से नई गाइडलाइंस लागू होने पर इसे बंद करना होगा। एमेजॉन की पूरी हिस्सेदारी वाली इस यूनिट को जुलाई 2017 में केवल फूड का बिजनेस करने वाली एक कंपनी में 50 करोड़ डॉलर का इनवेस्टमेंट करने का अप्रूवल मिला था। इस कंपनी को फूड प्रॉडक्ट्स की फिजिकल स्टोर्स और ई-कॉमर्स के जरिए सोर्सिंग कर बिक्री करने की अनुमति मिली है। ई-कॉमर्स के लिए नई FDI पॉलिसी में विदेशी फंडिंग वाली ई-कॉमर्स कंपनियों पर ऐसी किसी कंपनी के प्रॉडक्ट्स बेचने पर रोक लगाई गई है, जिसमें उसकी इक्विटी हिस्सेदारी है।
नई नीति से एमेजॉन को फूड रिटेल में मुश्किल

 
Have something to say? Post your comment