Sunday, May 26, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा मन्त्रिमण्डल की बैठक जून के प्रथम सप्ताह में होने की संभावना,बैठक में कुछ महत्वपूर्ण फैसले ले सकती है खट्टर सरकारकल वाराणसी जाएंगे नरेंद्र मोदी, विश्वनाथ मंदिर जाकर भगवान भोले का लेंगे आशीर्वादजगनमोहन रेड्डी आज आएंगे दिल्ली, 11 बजे पीएम मोदी से करेंगे मुलाकात29 मई को ओडिशा में सीएम पद की शपथ लेंगे नवीन पटनायकJ-K: नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से फायरिंग, 1 नागरिक घायलआम आदमी पार्टी चुनावी नतीजों पर आज करेगी मंथन, सीएम केजरीवाल ने बुलाई बैठकदिल्ली: छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह ने नितिन गडकरी से की मुलाकातसऊदी अरब के क्राउन प्रिंस ने प्रधानमंत्री मोदी को दी जीत की बधाई
Chandigarh

CHANDIGARH-Parimal Rai’s transfer setback for city traders, industrialists

December 20, 2018 06:58 AM

COURTESY TOI DEC 20

Parimal Rai’s transfer setback for city traders, industrialists
TIMES NEWS NETWORK

Chandigarh:

The transfer of UT adviser Parimal Rai is a setback for the traders and industrialists of the city as work on many important issues like conversion of property from leasehold to freehold, roll back of misuse and violation penalty were in final stages.


There were attempts by the BJP, including MP Kirron Kher, to stop Rai’s transfer as these were key issues that the local BJP leadership wanted to resolve before the upcoming Lok Sabha elections.

To redress these issues, recently two committees were also formed by the UT administration after approval of administrator VP Singh Badnore. One committee was formed to redress problems of traders, whereas second one to look into long-pending demands of the industrialists.

The traders had been seeking roll back of misuse and violation penalty, conversation of leasehold to freehold property, setting up of two warehouses in city, construction on the first floor of booths and single storey shops for storage purpose.

Similarly, there were demands of the industrialists too. They had sought transfer of leasehold to leasehold property, transfer of leasehold to freehold property, allowing of additional activWities in consonance with the Micro, Small and Medium Enterprise Development (MSMED) Act.

Outgoing UT adviser Parimal Rai was overseeing the work of these two committees

 
Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
किरण खेर ने लगातार दूसरी बार कांग्रेस के पवन बंसल को शिकस्त दी
बॉलीवुड एक्ट्रेस और चंडीगढ़ लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर 5000 वोटों से आगे चंडीगढ़ से किरण खेर आगे चल रही है चंडीगढ़ में 11 बजे तक 18.70 फीसदी वोटिंग चंडीगढ़ में सुबह 9 बजे तक 10.40 फीसदी वोटिंग RWAs oppose MC’s decision on imposing TDS to maintain parks चंडीगढ़ में इस बार दोहरी चुनौती से जूझ रही हैं किरण खेर! CHNAIDGARH-सेक्टर-44 में ज्वेलरी शॉप पर बंधक बनाकर 3 करोड़ की लूट, भाजपा की रैली में बिजी थी पुलिस 38 मिनट के भाषण में उन्होंने न तो किरण खेर का नाम लिया और न ही उनके लिए वोट मांगे। केवल अपने लिए ही वोट करने के लिए लोगों से अपील की ये लोग कहते थे कि भारत में तो बैंक नहीं हैं, ऐसे में डिजिटल लेनदेन कैसे संभव है?: पीएम मोदी