Tuesday, August 20, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा सरकार ने जन्माष्टमी की छुट्टी 24 अगस्त को घोषित कीअनुभव अग्रवाल द्वारा मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा का भव्य स्वागतसत्यदेव नारायण आर्य ने आज साहित्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने वाले 27 संस्कृत साहित्यकारों को 28.86 लाख रूपए की पुरस्कार राशि एवं विभिन्न अलंकरणों से सम्मानित कियाराम बिलास शर्मा 21 अगस्त को इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट(आईएचएम), पानीपत के नए परिसर का उद्घाटन करेंगेमुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची कांगथलीमुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची चीकामुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची भागलउत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत ने उत्तरकाशी में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया
 
Haryana

त्रिपुरा के राज्यपाल ने विराट संत सम्मेलन का किया शुभारम्भ

December 16, 2018 09:14 PM
त्रिपुरा के राज्यपाल प्रोफेसर कप्तान सिंह सोलंकी, राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी व गीता मनीष स्वामी ज्ञानांनद ने विराट संत सम्मेलन का शुभारम्भ किया। सभी संतों ने एक स्वर में पवित्र ग्रंथ गीता को राष्टï्रीय ग्रंथ घोषित करने की आवाज को बुलंद किया।  
 
र्मनगरी कुरुक्षेत्र में रविवार को त्रिपुरा के राज्यपाल प्रोफेसर कप्तान सिंह सोलंकी, राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी व गीता मनीष स्वामी ज्ञानांनद ने विराट संत सम्मेलन का शुभारम्भ किया।सभी संतों ने एक स्वर में पवित्र ग्रंथ गीता को राष्टï्रीय ग्रंथ घोषित करने की आवाज को बुलंद किया। देश-विदेश के महान संतों ने पवित्र ग्रंथ गीता पर चिंतन-मंथन किया। इस दौरान राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने राज्य सरकार की तरफ से सभी संतों और विद्ववान लोगों का स्वागत करते हुए सभी संत जनों का परिचय करवाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सोच है कि पवित्र ग्रंथ गीता का ज्ञान दुनिया के प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचे और इस कार्य को विद्ववान जन सहजता से कर पाएंगे। इसलिए अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव पर एक विशाल संत सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इस सम्मेलन में सभी संतों ने पवित्र ग्रंथ गीता को राष्टï्रीय ग्रंथ घोषित करने की मांग करते हुए कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने कुरुक्षेत्र की धरा पर जो स्वर बोले वह गीता का पाठ बने, भगवान श्रीकृष्ण की वाणी आज भी कण-कण में विद्वमान है।

त्रिपुरा के राज्यपाल ने जयराम विद्यापीठ में पांचवें वर्ष भी सामूहिक विवाह समारोह में शामिल होने के वायदे को भी पूरा किया। राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने 28 नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद दिया। धर्मनगरी कुरुक्षेत्र में  जयराम विद्यापीठ ने गीता जयंती आयोजन का एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है। इसी वजह से कुरुक्षेत्र को एक नई पहचान मिली है। यह विचार त्रिपुरा के राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने गीता जंयती के अवसर पर जयराम विद्यापीठ में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में व्यक्त किये। इस मौके पर राज्यपाल ने विद्यापीठ में सामूहिक विवाह समारोह में नवविवाहित 28 जोड़ों को आशीर्वाद देकर उनके सुखद दाम्पत्य जीवन की कामना की। इस मौके पर राज्यपाल द्वारा कुरुक्षेत्र के गांव अमीन फतुहपुर के 103 वर्षीय वैद्य शादी लाल को सम्मानित किया गया जिन्होंने अपना जीवन आयुर्वेद को समर्पित किया हुआ है और लोगों का उपचार कर रहे हैं। वैद्य शादी लाल पांच भाषाओं के ज्ञाता होने के साथ साथ गीता के भी प्रकांड विद्वान हैं।
Have something to say? Post your comment
More Haryana News
हरियाणा सरकार ने जन्माष्टमी की छुट्टी 24 अगस्त को घोषित की
अनुभव अग्रवाल द्वारा मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा का भव्य स्वागत
सत्यदेव नारायण आर्य ने आज साहित्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने वाले 27 संस्कृत साहित्यकारों को 28.86 लाख रूपए की पुरस्कार राशि एवं विभिन्न अलंकरणों से सम्मानित किया राम बिलास शर्मा 21 अगस्त को इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट(आईएचएम), पानीपत के नए परिसर का उद्घाटन करेंगे मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची कांगथली मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची चीका मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची भागल
मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज अपनी जन आशीर्वाद यात्रा आंरभ करने से पूर्व अंबाला के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस से अम्बाला के निवासियों को लगभग 3816 लाख रुपए की विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन कर सौगातें दी
मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची पिहोवा
रिकॉर्डतोड़ जलस्तर से दिल्ली तक अलर्ट, हरियाणा के कई इलाकों में घुसा पानी, पानीपत में हाईवे तक पहुंचा