Thursday, May 23, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
विपक्षी दलों का अनुमान त्रिशंकु रहेगी संसद, आज राष्ट्रपति को लिखेंगे पत्रममता बनर्जी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्विटर पर 'आपातकाल' शीर्षक के साथ लिखी कविताकमलनाथ का पार्टी के लोगों को संदेश- चिंता ना करें, सत्य की होगी जीतपहली बार लोकसभा चुनाव की मतगणना में 5 वीवीपैट मशीन के ऑडिट का प्रावधान किया गया: राजीव रंजनबक्सर से निर्दलीय उम्मीदवार रामचंद्र यादव फरारविपक्षी दलों का अनुमान त्रिशंकु रहेगी संसद, आज राष्ट्रपति को लिखेंगे पत्रEC से झटके पर बोले अभिषेक मनु सिंघवी, 'आचार संहिता' बनी 'मोदी प्रचार संहिता'लुधियाना: चुनाव रिजल्ट के लिए हलवाई को मिला 10-12 क्विंटल लड्डू बनाने का ऑर्डर
Haryana

त्रिपुरा के राज्यपाल ने विराट संत सम्मेलन का किया शुभारम्भ

December 16, 2018 09:14 PM
त्रिपुरा के राज्यपाल प्रोफेसर कप्तान सिंह सोलंकी, राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी व गीता मनीष स्वामी ज्ञानांनद ने विराट संत सम्मेलन का शुभारम्भ किया। सभी संतों ने एक स्वर में पवित्र ग्रंथ गीता को राष्टï्रीय ग्रंथ घोषित करने की आवाज को बुलंद किया।  
 
र्मनगरी कुरुक्षेत्र में रविवार को त्रिपुरा के राज्यपाल प्रोफेसर कप्तान सिंह सोलंकी, राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी व गीता मनीष स्वामी ज्ञानांनद ने विराट संत सम्मेलन का शुभारम्भ किया।सभी संतों ने एक स्वर में पवित्र ग्रंथ गीता को राष्टï्रीय ग्रंथ घोषित करने की आवाज को बुलंद किया। देश-विदेश के महान संतों ने पवित्र ग्रंथ गीता पर चिंतन-मंथन किया। इस दौरान राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने राज्य सरकार की तरफ से सभी संतों और विद्ववान लोगों का स्वागत करते हुए सभी संत जनों का परिचय करवाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सोच है कि पवित्र ग्रंथ गीता का ज्ञान दुनिया के प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचे और इस कार्य को विद्ववान जन सहजता से कर पाएंगे। इसलिए अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव पर एक विशाल संत सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इस सम्मेलन में सभी संतों ने पवित्र ग्रंथ गीता को राष्टï्रीय ग्रंथ घोषित करने की मांग करते हुए कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने कुरुक्षेत्र की धरा पर जो स्वर बोले वह गीता का पाठ बने, भगवान श्रीकृष्ण की वाणी आज भी कण-कण में विद्वमान है।

त्रिपुरा के राज्यपाल ने जयराम विद्यापीठ में पांचवें वर्ष भी सामूहिक विवाह समारोह में शामिल होने के वायदे को भी पूरा किया। राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने 28 नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद दिया। धर्मनगरी कुरुक्षेत्र में  जयराम विद्यापीठ ने गीता जयंती आयोजन का एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है। इसी वजह से कुरुक्षेत्र को एक नई पहचान मिली है। यह विचार त्रिपुरा के राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने गीता जंयती के अवसर पर जयराम विद्यापीठ में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में व्यक्त किये। इस मौके पर राज्यपाल ने विद्यापीठ में सामूहिक विवाह समारोह में नवविवाहित 28 जोड़ों को आशीर्वाद देकर उनके सुखद दाम्पत्य जीवन की कामना की। इस मौके पर राज्यपाल द्वारा कुरुक्षेत्र के गांव अमीन फतुहपुर के 103 वर्षीय वैद्य शादी लाल को सम्मानित किया गया जिन्होंने अपना जीवन आयुर्वेद को समर्पित किया हुआ है और लोगों का उपचार कर रहे हैं। वैद्य शादी लाल पांच भाषाओं के ज्ञाता होने के साथ साथ गीता के भी प्रकांड विद्वान हैं।
 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
पहली बार लोकसभा चुनाव की मतगणना में 5 वीवीपैट मशीन के ऑडिट का प्रावधान किया गया: राजीव रंजन
हरियाणाः मतगणना के लिए सुरक्षा के कडे़ प्रबंध केंद्रीय बलों की अतिरिक्त कंपनी तैनात
17 वीं लोकसभा के लिए वीरवार 23 मई, 2019 का दिन बहुत महत्वपूर्ण है:राजीव रंजन 90 विधानसभा क्षेत्रों की 450 वीवीपैट मशीनों की वोटर स्ल्पि का किया जाएगा मिलान - मुख्य निर्वाचन अधिकारी मीडिया मैंनेजमैंट - चुनावी नतीजे HARYANA- खनन माफिया ने पुलिस और सिंचाई विभाग की टीमों को बंधक बनाकर दी धमकी, बोले- दोबारा दिखे तो जिंदा नहीं जा पाओगे कांग्रेस की चिट्‌ठी पर निर्भर करेगा किरण का नेता प्रतिपक्ष बनना, स्पीकर ने मांगा पार्टी का प्रस्ताव HCS EXAM RESULT-जनरल कैटेगरी की कटऑफ 130.31 और ईएसएम एससी की सबसे कम 72.01 रही खनन माफिया ने पोकलेन मशीन से खोद डाली 10 फुट गहरी जमीन खनन अधिकारी की शिकायत पर केस दर्ज AMBALA-हर माह Rs.1.26 करोड़ खर्च, 1100 में से 200 स्वीपर रोजाना मार रहे फरलो, विज कराएंगे घोटाले की जांच