Sunday, April 21, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर जमकर बरसी आशा हुड्डाबीजेपी ने किया 7 उम्मीदवारों का ऐलान, दिल्ली से मनोज तिवारी और हर्षवर्धन को टिकटगाजियाबाद: पत्नी और 3 बच्चों की चाकू से गोदकर शख्स ने कर दी हत्या दिग्विजय ने सांसद दुष्यंत चौटाला के विकास कार्यों पर सीएम मनोहर लाल को दी खुली बहस की चुनौतीभूपेंद्र हुड्डा सोनीपत,कुलदीप शर्मा करनाल,भव्य बिश्नोई हिसार,निर्मल सिंह कुरुक्षेत्र और नागर की बजाय अवतार भडाना फरीदाबाद से कांग्रेस प्रत्याशी घोषितशेखर तिवारी मर्डर केस: पत्नी अपूर्वा और 2 नौकरों से पूछताछ करने अन्य जगह ले जाया गयादिल्ली: BJP ने मनोज तिवारी, प्रवेश वर्मा, रमेश बिधूड़ी, डॉ. हर्षवर्धन को दोबारा उताराBJP ने किया लोकसभा टिकटों का ऐलान, दिल्ली के 4 मौजूदा सांसदों को दोबारा मौका
Chandigarh

चंडीगढ़: 13वें एग्रो-टेक- इंडिया 2018 का आयोजन किया गया, जिसका उदघाटन भारत के महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने किया

December 01, 2018 04:33 PM
भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने आज चंडीगढ़ में सीआईआई एग्रो टेक इंडिया-2018 (दी प्रीमियर एग्री एंड फूड टैक्रोलोजी फेयर) (1 दिसंबर, 2018 से 4 दिसंबर, 2018) के 13वें ऐडिशन का उद्घाटन किया।
इस अवसर पर राष्ट्रपति ने कहा कि भारतीय कृषि को समकालीन तकनीक के साथ जुडकर नवीकरण की जरूरत है क्योंकि जलवायु परिवर्तन, मूल्य में उतार-चढ़ाव और मांग के दृष्टिïगत सुरक्षा और व्यापार के साथ साझेदारी भी आवश्यक है। इसके साथ-साथ कृषि में मूल्य और प्रतिस्पर्धात्मकता को बढाने तथा बेहतर आय का नेतृत्व भी जरूरी है। 
राष्ट्रपति ने कहा कि मानव इतिहास के माध्यम से कृषि के क्रास-फर्टीलाईजेशन (पार-निशेचन) के साथ आगे बढ़ी है। कृषि के क्षेत्र में संाझेदारी, सिम्बियोसिस और आपसी सीखने और संाझा करने का यह सही समय है तथा आदर्श मंच है। संाझेदारी विभिन्न क्षेत्रों और भौगोलिक क्षेत्रों में बनाई जा सकती है। पिछले दशकों में, विनिर्माण और मशीनीकरण कृषि के लिए सराहनीय उपयोगिता रहा है। कृषि और सेवा क्षेत्र के बीच आज एक मजबूत संबंध उभर रहा है। बायोटेक्नोलॉजी, नैनो टेक्नोलॉजी, डेटा साइंस, रिमोट सेंसिंग इमेजिंग, आटोनोमस एरियल और ग्राऊंड व्हीकल और बुद्धि में कृषि के लिए अधिक मूल्य पैदा करने की कुंजी है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि एग्रो टेक इंडिया-2018 विशिष्ट सांझेदारी को बढ़ावा देगा जो भारत के किसानों को लाभान्वित करेगा।
कृषि अवशेष के कारण प्रदूषण के मुद्दे पर बात करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि पंजाब और हरियाणा के किसान हमारे देश के लिए गर्व का विषय हैं। उन्होंने कभी भी समाज की जिम्मेदारियों और चुनौतियों से अपने आपको दूर नहीं किया है। आज हम फसल अवशेषों के सुरक्षित और साफ निपटान की समस्या का सामना कर रहे हैं। ऐसी वस्तुओं को जलाने से प्रदूषण हो रहा है और छोटे बच्चों को भी प्रभावित कर रहा है। उन्होंने कहा कि इसके समाधान के लिए राज्य सरकारों, कुशल और प्रगतिशील किसानों और अन्य हितधारकों को आगे आना होगा तथा इसमें कोई संदेह नहीं है कि तकनीक हमें समाधान खोजने में मदद करेगी।
इससे पहले, केन्द्रीय खाद्य एवं प्रसंस्करण मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि उनके मंत्रालय द्वारा मेगा फूूड पार्क योजना, कोल्ड चेन योजना तथा मिनी फूड पार्क योजना को क्रियान्वित किया है। उन्होंने इस अवसर पर अपने मंत्रालय से जुडी अन्य जानकारियां भी दी। 
बाक्स
केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अगुवाई में राज्य द्वारा कृषि के क्षेत्र में किए गए कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि कृषि बाजार के क्षेत्र में हरियाणा ने सराहनीय कार्य किया है और जींसों के क्षेत्र में भी अच्छा काम किया गया है। उन्होंने कहा कि जब तक गांव मजबूत नहीं होगा, तब देश मजबूत नहीं होगा।  उन्होंने कहा कि आज खाद्य उत्पादन में आ रही चुनौतियों, बढती जनसंख्या, खाने-पीने के आदतों, मंडी इत्यादि की बाधाओं के कारण कृषि के क्षेत्र में दबाव पड रहा है इसलिए किसानों को सशक्त बनाना होगा। उन्होंने कहा कि हम दूध उत्पादन, मत्सस्य उत्पादन जैसे क्षेत्रों में अग्रणी है और वर्तमान सरकार ने गत चार सालों के दौरान दूध उत्पादन में 28 प्रतिशत और मत्स्य उत्पादन में 27 प्रतिशत की वृद्घि दर्ज की है। 
इस मौके पर हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य, पंजाब के राज्यपाल श्री बीपी बदनौर, हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल भी उपस्थित थे। 
कार्यक्रम के दौरान राष्टï्रपति श्री रामनाथ कोविंद, हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य, पंजाब के राज्यपाल श्री बीपी बदनौर, हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल, केन्द्रीय खाद्य एवं प्रसंस्करण मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल और केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह को सीआईआई के पदाधिकारियों द्वारा शॉल देकर सम्मानित किया गया। 
कार्यक्रम में सीआईआई के अध्यक्ष राकेश भारती मित्तल, सीआईआई से अजय एस श्रीराम, चरणजीत बैनर्जी और सचित जैन ने उपस्थितजनों को संबोधित किया।
 
Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
Violence outside pub in Sector 7,CHANDIGARH four arrested
गठबंधन को लेकर सांसद दुष्यंत चौटाला बोले दो दिन का इंतजार कीजिए एक खुशखबरी आएगी
BA LLB 5-yr course extrance exam rescheduled for June 16
पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल कांग्रेस पार्टी से चंडीगढ़ लोकसभा के उम्मीदवार घोषित
चंडीगढ़ प्रेस क्लब के चुनाव परिणाम घोषित,बरिंदर सिंह रावत बने पुनः चंडीगढ़ प्रेस क्लब के प्रधान,रावत पैनल के सभी सदस्य जीते
एशिया की प्रमुख अडानी सोलर कम्पनी के चीफ मार्किटिंग आफिसर प्रशांत माथुर चंडीगढ़ में बी एन के एनर्जी के सीईओ शैलेश राजगढ़िया को नॉर्दर्न रीजन के लिए चैनल पार्टनर्स का प्रमाण-पत्र देते हुए
चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट से समर शेड्यूल जारी- तीन नई फ्लाइट भी अाज से होंगी शुरू, बेंगलुरू, हैदराबाद और चेन्नई...
चंडीगढ़ के धनास में शराब के ठेके की नीलामी10 करोड़ 78 लाख में छूटी
PGI plans yoga dept on AIIMS lines Apply for leave in advance: PU VC