Monday, December 10, 2018
Follow us on
Chandigarh

चंडीगढ़: 13वें एग्रो-टेक- इंडिया 2018 का आयोजन किया गया, जिसका उदघाटन भारत के महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने किया

December 01, 2018 04:33 PM
भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने आज चंडीगढ़ में सीआईआई एग्रो टेक इंडिया-2018 (दी प्रीमियर एग्री एंड फूड टैक्रोलोजी फेयर) (1 दिसंबर, 2018 से 4 दिसंबर, 2018) के 13वें ऐडिशन का उद्घाटन किया।
इस अवसर पर राष्ट्रपति ने कहा कि भारतीय कृषि को समकालीन तकनीक के साथ जुडकर नवीकरण की जरूरत है क्योंकि जलवायु परिवर्तन, मूल्य में उतार-चढ़ाव और मांग के दृष्टिïगत सुरक्षा और व्यापार के साथ साझेदारी भी आवश्यक है। इसके साथ-साथ कृषि में मूल्य और प्रतिस्पर्धात्मकता को बढाने तथा बेहतर आय का नेतृत्व भी जरूरी है। 
राष्ट्रपति ने कहा कि मानव इतिहास के माध्यम से कृषि के क्रास-फर्टीलाईजेशन (पार-निशेचन) के साथ आगे बढ़ी है। कृषि के क्षेत्र में संाझेदारी, सिम्बियोसिस और आपसी सीखने और संाझा करने का यह सही समय है तथा आदर्श मंच है। संाझेदारी विभिन्न क्षेत्रों और भौगोलिक क्षेत्रों में बनाई जा सकती है। पिछले दशकों में, विनिर्माण और मशीनीकरण कृषि के लिए सराहनीय उपयोगिता रहा है। कृषि और सेवा क्षेत्र के बीच आज एक मजबूत संबंध उभर रहा है। बायोटेक्नोलॉजी, नैनो टेक्नोलॉजी, डेटा साइंस, रिमोट सेंसिंग इमेजिंग, आटोनोमस एरियल और ग्राऊंड व्हीकल और बुद्धि में कृषि के लिए अधिक मूल्य पैदा करने की कुंजी है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि एग्रो टेक इंडिया-2018 विशिष्ट सांझेदारी को बढ़ावा देगा जो भारत के किसानों को लाभान्वित करेगा।
कृषि अवशेष के कारण प्रदूषण के मुद्दे पर बात करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि पंजाब और हरियाणा के किसान हमारे देश के लिए गर्व का विषय हैं। उन्होंने कभी भी समाज की जिम्मेदारियों और चुनौतियों से अपने आपको दूर नहीं किया है। आज हम फसल अवशेषों के सुरक्षित और साफ निपटान की समस्या का सामना कर रहे हैं। ऐसी वस्तुओं को जलाने से प्रदूषण हो रहा है और छोटे बच्चों को भी प्रभावित कर रहा है। उन्होंने कहा कि इसके समाधान के लिए राज्य सरकारों, कुशल और प्रगतिशील किसानों और अन्य हितधारकों को आगे आना होगा तथा इसमें कोई संदेह नहीं है कि तकनीक हमें समाधान खोजने में मदद करेगी।
इससे पहले, केन्द्रीय खाद्य एवं प्रसंस्करण मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि उनके मंत्रालय द्वारा मेगा फूूड पार्क योजना, कोल्ड चेन योजना तथा मिनी फूड पार्क योजना को क्रियान्वित किया है। उन्होंने इस अवसर पर अपने मंत्रालय से जुडी अन्य जानकारियां भी दी। 
बाक्स
केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अगुवाई में राज्य द्वारा कृषि के क्षेत्र में किए गए कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि कृषि बाजार के क्षेत्र में हरियाणा ने सराहनीय कार्य किया है और जींसों के क्षेत्र में भी अच्छा काम किया गया है। उन्होंने कहा कि जब तक गांव मजबूत नहीं होगा, तब देश मजबूत नहीं होगा।  उन्होंने कहा कि आज खाद्य उत्पादन में आ रही चुनौतियों, बढती जनसंख्या, खाने-पीने के आदतों, मंडी इत्यादि की बाधाओं के कारण कृषि के क्षेत्र में दबाव पड रहा है इसलिए किसानों को सशक्त बनाना होगा। उन्होंने कहा कि हम दूध उत्पादन, मत्सस्य उत्पादन जैसे क्षेत्रों में अग्रणी है और वर्तमान सरकार ने गत चार सालों के दौरान दूध उत्पादन में 28 प्रतिशत और मत्स्य उत्पादन में 27 प्रतिशत की वृद्घि दर्ज की है। 
इस मौके पर हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य, पंजाब के राज्यपाल श्री बीपी बदनौर, हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल भी उपस्थित थे। 
कार्यक्रम के दौरान राष्टï्रपति श्री रामनाथ कोविंद, हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य, पंजाब के राज्यपाल श्री बीपी बदनौर, हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल, केन्द्रीय खाद्य एवं प्रसंस्करण मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल और केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह को सीआईआई के पदाधिकारियों द्वारा शॉल देकर सम्मानित किया गया। 
कार्यक्रम में सीआईआई के अध्यक्ष राकेश भारती मित्तल, सीआईआई से अजय एस श्रीराम, चरणजीत बैनर्जी और सचित जैन ने उपस्थितजनों को संबोधित किया।
Have something to say? Post your comment
More Chandigarh News
इनेलो प्रदेश कार्यकारिणी की चंडीगढ़ में बैठक सम्पन्न
परिस्थिति में अपने बच्चांे को शिक्षित करें और एकता से रहना सिखाएं:सत्यदेव नारायण आर्य
चंडीगढ़ः राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद अंतरराष्ट्रीय कृषि मेले का करेंगे उद्घाटन सुषमा के बाद अमरिंदर ने भी ठुकराया पाकिस्तान का न्योता, पर सिद्धू तैयार आदर्श पब्लिक स्कूल में फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता आयोजित टी-टॉयज रिटेल चेन ने चंडीगढ़ में खोला अपना पहला खिलौना स्टोर Ministry okays plan for city’s first flyover मिसेज चंडीगढ़ - ए वुमैन ऑफ सब्सटेंस के ऑडिशन चंडीगढ़ और पंचकूला में 11 व 18 नवंबर को होंगे
अगर आप अपने उपर विश्वास करते हैं तो सब कुछ संभव:मीनाक्षी चौधरी
कला, टेक्सटाइल और संस्कृति की शानदार प्रदर्शनी ‘दस्तकारी हाट क्राफ्ट बाजार’ 5 नवंबर, 2018 तक