Friday, March 22, 2019
Follow us on
Haryana

संस्कारित समाज के निर्माण में शिक्षण संस्थानों व शिक्षकों का महत्वपूर्ण स्थान है:अभिमन्यु

November 25, 2018 04:59 PM

हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि संस्कारित समाज के निर्माण में शिक्षण संस्थानों व शिक्षकों का महत्वपूर्ण स्थान है। इसलिए शिक्षक वर्ग को निरंतर अपने कार्य की विवेचना करनी चाहिए कि समाज के उत्थान के लिए भावी पीढी में अच्छे संस्कार सृजित किये जाए। समाज का सहयोग लेकर चलाई जाने वाली शिक्षण संस्थानों में शिक्षा की गुणवत्ता काफी अच्छी रहती है।

वित्त मंत्री आज छोटू राम किसान कॉलेज, जींद में हरियाणा कालेज टीचर एसोशिएशन द्वारा आयोजित एक दिवसीय सेमीनार के समापन पर  बतौर मुख्य बोल रहे थे। एसोशिएशन द्वारा हरियाणा में उच्चत्तर शिक्षा में चुनौतियां विषय पर यह सेमीनार आयोजित किया गया था।

        वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि भागती दौडती जिन्दगी में इस विषय पर सेमीनार आयोजित करना निश्चित रूप से शिक्षा में गुणवत्ता को बढावा देना है। शिक्षा व शिक्षण संस्थानों से जुडे लोग जब समाज के समग्र विकास पर चिन्तन करेगें तो निश्चित रूप से उनका समाज में सम्मान बढेगा। हमें शिक्षक के सम्मान को पुर्नस्थापित करने के लिए आदर्शवादी दृष्टिकोण लेकर अध्यापन कार्य करना चाहिए। वित्तमंत्री ने कहा कि शिक्षक आशिर्वाद देने वाला वर्ग है। जब इनका सम्मान बढेगा तो निश्चित रूप से समाज में आदर्शो की स्थापना हो सकेगी।

        वित्त मंत्री ने एसोशिएशन द्वारा रखी गई मांगों का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में शिक्षकों को उनके जायज हक दिये है। उन्होंने कहा कि समाज में शिक्षा की जिज्ञासा लाने में एक शिक्षक का महत्वपूर्ण रोल है। उन्होंने इस बात को स्वीकार किया है कि प्राईवेट सैक्टर में संचालित शिक्षण संस्थानों का शिक्षा के प्रचार प्रसार में महत्वपूर्ण भागीदारी है। उन्होंने इस बात को भी स्वीकार किया कि समाज के सहयोग से संचालित शिक्षण संस्थानों में शिक्षा की गुणवत्ता काफी अच्छी रहती है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा को बढावा देने के लिए पूरी तत्परता के साथ काम कर रही है। उन्होंने प्राईवेट व एडिड स्कूलों की भूमिका की सराहना करते हुए कहा अनेक नीजि क्षेत्र के कॉलेज विद्यार्थियों को अच्छी शिक्षा प्रदान कर रहे है। उन्होंने यह भी कहा समाज हित में शिक्षा की गुणवत्ता को बढावा देने के लिए आम आादमी का नीति निर्धारण में सहयोग लेना चाहिए। उन्होंने शिक्षकों का आहवान किया कि वे समाज में अपनी स्थिती को प्रभावी बनाए। एक आदर्श शिक्षक समाज के लिए आईना होता है। उन्होनें दोहराया कि आज समाज के प्रति सकारात्मकता का विचार लेकर आगे बढने की जरूरत है। वित्तमंत्री ने कहा कि इस प्रकार के राज्यस्तर के  सेमीनारों में मंथन से महत्वपूर्ण जानकारी निकलकर सामने आती है।

कार्यक्रम में हरियाणा कॉलेज टीचर एसोशिएशन के 42 वें वैधानिक सत्र के मौके पर न्यूज बुलेटन बुकलेट का अनावरण किया गया। इसमें शिक्षा से जुडी गतिविधियों का लेखा जोखा है।

        छोटू राम किसान कॉलेज के प्रशासक एवं एसडीएम विरेन्द्र सहरावत ने वित्त मंत्री का स्वागत किया।

 
Have something to say? Post your comment