Wednesday, March 20, 2019
Follow us on
Haryana

न्यूमोकोकल कॉंजंूगेंट वैक्सिन टीके से प्रदेश में न केवल निमोनिया से बच्चों को सुरक्षित रखा जा सकेगा बल्कि अनमोल टेबलेट से उनका पूरा रिकॉर्ड भी ऑनलाईन रहेगा: विज

November 02, 2018 06:49 PM
हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज ने कहा कि न्यूमोकोकल कॉंजंूगेंट वैक्सिन टीके से प्रदेश में न केवल निमोनिया से बच्चों को सुरक्षित रखा जा सकेगा बल्कि अनमोल टेबलेट से उनका पूरा रिकॉर्ड भी ऑनलाईन रहेगा। स्वास्थ्य मंत्री आज पंचकूला में न्यूमोकोकल कॉंजंूगेंट वैक्सिन एवं अनमोल टेबलेट के शुभारम्भ अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि हर साल 40 हजार बच्चे निमोनिया से पीडि़त होते हैं जिनके सरंक्षण के लिए यह वैक्सिन अत्यंत लाभकारी सिद्ध होगी। प्रदेश के बच्चों को 9 महीने की अवस्था तक तीन खुराकों में दी जाने वाली इस वैक्सिन की बाजार में कीमत लगभग 12 हजार रुपए है परन्तु सरकारी अस्पतालों में इसे सभी वर्गो के बच्चों को पूरी तरह निशुल्क दिया जाएगा।
      श्री विज ने कहा कि अनमोल एक ऐसी ऑनलाईन प्रणाली है जिसकी सहायता से प्रदेश की एएनएम को पहली बार डिजिटल किया जा रहा है। इसके लिए विभाग के चिकित्सकों, अधिकारियों तथा एएनएम को प्रशिक्षित भी किया गया है। इसके लिए पहले चरण में आज प्रदेश के अम्बाला, गुरूग्राम, हिसार, जीन्द, कैथल, करनाल, पलवल, सिरसा और महेन्द्रगढ सहित 9 जिलों की 2735 एनएनएम को यह टेबलेट प्रदान किए है। शेष जिलों में यह सुविधा शीघ्र ही उपलब्ध करवाई जाएगी। इस टेबलेट की सहायता से एएनएम गर्भवती महिलाओं तथा बच्चों का पूरा रिकॉर्ड आरसीएच पोर्टल पर लोड करेगी जिससे राज्य की सभी गर्भवती महिला व बच्चों का उचित डाटा अपडेट होता रहेगा।
      स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार के द्वारा शीघ्र ही आशा वर्कर को स्मार्ट मोबाईल फोन भी उपलब्ध करवाया जाएगा ताकि स्वास्थ्य विभाग की सभी गतिविधियों को ऑनलाईन रखा जा सके। इसके अलावा प्रदेश में लोगों को उत्तम स्वास्थ्य प्रदान करवाने के लिए 400 वैलनैस सैंटर बनाए जाएगें जिनमें से पहले चरण में 200 सैंटर को पूरा किया जाएगा। इसके अलावा प्रदेश के चार जिलों में कैथलेब की सुविधा दी जा रही है तथा करीब एक दर्जन अस्पतालों में डायलिसिस और एमआरआई, सिटीस्कैन की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जा रही है जो देश में अपनी तरह की सुविधांए सरकारी अस्पतालों में उपलब्ध करवाई जा रही है।  
      श्री विज ने कहा कि हरियाणा के तीन जिलों पंचकूला, पानीपत  और हिसार में पहली बार 100-100 बिस्तरों के मातृ एवं बाल स्वास्थ्य केयर सेंटर बनाए जाएगें ताकि नवजात बच्चों एवं प्रसूता माता की उचित देखभाल की जा सके। इन प्रत्येक पर करीब 20 करोड़ रुपया खर्च आएगा। इसके अलावा प्रदेश में डाक्टर की कमी पूरा करने के लिए डीएनबी कोर्स शुरू किया गया है। इसके साथ ही हरियाणा राज्य के सरकारी मैडिकल कॉलेजों से एमबीबीएस करने वाले डाक्टर्स को न्यूनतम एक वर्ष तक हरियाणा के अस्पतालों में नौकरी करने के प्रस्ताव पर भी विचार किया जा  रहा है। प्रदेश में पहली बार आयुष्मान भारत योजना को हरियाणा की धरती पर लांच किया गया है।
      इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आर.आर. जोवल ने स्वास्थ्य मंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनके मार्गदर्शन में प्रदेशवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाई जा रही है और यह आज एक नया कार्यक्रम शुरू किया है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की प्रबंध निदेशक श्रीमती अमनीत पी. कुमार तथा निदेशक डॉ० बी.के.बंसल ने अनमोल टेबलेट तथा न्यूमोकोकल कॉंजंूगेंट वैक्सिन योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी।  
 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
‘चप्पल’ सबकी साथी, पूरी उम्र देगी आपका साथ- दिग्विजय गठबंधन के लिए नहीं, विलय के लिए भाजपा के आगे नतमस्तक है इनेलो - दुष्यंत चौटाला चुनाव के दौरान आयकर विभाग की रहेगी नकद लेन-देन पर नजर रंगों का यह अनूठा भारतीय त्योहार एकता और भाईचारे के बंधन को मजबूत करने का अवसर प्रदान करता है:मनोज यादव अनिल विज का राहुल और प्रियंका पर हमला- हम चौकीदार, आप पप्पू लिख लें हरियाणा: CRPF की 80वीं वर्षगांठ में शामिल हुए NSA अजीत डोभाल 10% से अधिक शोध में किया कट-कॉपी-पेस्ट तो नहीं हो पाएगी पीएचडी BJP-रोहतक से धनखड़-अरविंद पर हुई चर्चा मंत्री विज ने खेमका की तारीफ कर दिए थे 10 में 9.92 अंक, सीएम ने किए 9, कहा था- बढ़ाकर किया वर्णन,-हाईकोर्ट ने दिए टिप्पणी हटाने के निर्देश, कहा- सत्यनिष्ठा से काम करने वालों को प्रोटेक्ट करना चाहिए BJP shortlists probables for all Haryana seats