Thursday, January 17, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
छत्रपति हत्याकांड में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम , कृष्ण लाल, निर्मल सिंह और कुलदीप सिंह को सीबीआई कोर्ट ने उम्र कैद की सजा और पचास-पचास हजार का जुर्माना भी देना होगा पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केस:थोड़ी देर में राम रहीम की सजा पर फैसला आने की संभावनाबुलंदशहरः गुब्बारा भरने वाले गैस सिलेंडर ब्लास्ट, एक दर्जन से ज्यादा बच्चे झुलसेपंचकूला में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केसः कोर्ट में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जारीपत्रकार हत्याकांड: CBI ने राम रहीम को फांसी देने की मांग कीजस्टिस दिनेश महेश्वरी और संजीव खन्ना कल लेंगे SC के न्यायमूर्ति पद की शपथबीमारी का इलाज है, पर कांग्रेस नेताओं की सोच का इलाज नहीं: पीयूष गोयलPM मोदी ने वाइब्रेंट गुजरात समिट का उद्घाटन किया
Chandigarh

कला, टेक्सटाइल और संस्कृति की शानदार प्रदर्शनी ‘दस्तकारी हाट क्राफ्ट बाजार’ 5 नवंबर, 2018 तक

Vikesh Sharma | November 01, 2018 09:10 PM
Vikesh Sharma

चंडीगढ़- चंडीगढ़ के शिल्प प्रेमियों को पंजाब मंडी बोर्ड, किसान भवन, सेक्टर-35, चंडीगढ़ में आयोजित होने वाले दस्ताकरी हाट क्राफ्ट बाजार में भारत भर के विविध एवं पारंपरिक हस्तशिल्प तथा परिधानों के संगम को देखने का मौका मिला। दस्तकारी हाट समिति के चंडीगढ़ क्राफ्ट बाजार की शुरूआत काफी उत्साह के साथ श्री खुशवंत सिंह, आयुक्त, आरटीआई, लेखक एवं पत्रकार की उपस्थिति में की गई। इस मौके की शोभा विशिश्ट अतिथि श्रीमती बिंदु मनचंदा, प्रमुख हेरिटेज क्राफ्ट एंड कम्युनिटी डिवीजऩ इनटैक ने बढ़ाई। इस बाजार को खास तौर पर दिवाली के सीजऩ के लिए तैयार किया गया है और इसमें खूबसूरत साडिय़ां, दुपट्टे, बर्तन, टेरा-कॉटा आभूषण, फेस्टिव फुटवियर, हाथ से तैयार किए गए सजावटी उत्पाद और काफी अन्य चीजें उपलब्ध होंगी।

 

सेक्टर 35, चंडीगढ़ के किसान भवन में कला, टेक्सटाइल और संस्कृति की यह 6 दिवसीय प्रदर्शनी 5 नवंबर, 2018 तक जारी रहेगी। दस्तकारी हाट समिति के हरेक संस्करण की तरह यह क्राफ्ट बाजार भी कला एवं षिल्प के कद्रदानों के लिए बेहद प्रतिभाषाली षिल्पकारों और कलाकारों को एक ही छत के नीचे लाने का वादा करता है, ताकि बनाने वालों और उसे खरीदने वालों के बीच मजबूत संबंध कायम हो सके।

 

यह आयोजन एक इंटरैक्टिव मंच बनाने का प्रयास है, जहां भारत के विभिन्न राज्यों के 70 कलाकार अपनी सांस्कृतिक विरासत को प्रदर्षित करने के लिए साथ आए हैं।

 

चंडीगढ़ में आयोजित भारत के सबसे प्रमुख शिल्प प्रदर्षनी में से एक क्राफ्ट बाजार दर्शकों के लिए अनूठे उत्पादों के साथ ही खुशनुमा माहौल उपलब्ध है। समकालीन एवं पारंपरिक उत्पादों के मिश्रण तथा नए डिजाइन विकास के साथ आगंतुक पष्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेष में बनने वाले शानदार हस्तकरघा बुनाई, एंब्रॉयडरी और ब्लॉक प्रिंट्स से लेकर बांस और पीतल की सदियों पुरानी परंपराओं से बने कई नए एवं आकर्शक उत्पादों से रूबरू होने का लाभ उठा सकते हैं, वहीं यूपी के कलरफुल बास्केट्स, पष्चिम बंगाल के हैंड प्रिंटेट टेराकोटा, तेलंगा के डुरीज, पष्चिम बंगाल के बाटिक, राजस्थान एवं ओडिषा के चांदी एवं स्टोन के आभूषणों तथा बिहार की लिलेन एवं टसर की साडिय़ां, राजस्थान एवं गुजरात के ब्लॉक प्रिंट्स तथा दिल्ली एवं राजस्थान के षिबोरी के उत्पाद देखने को मिलेंगे।

 

उत्तराखंड की आरोही सोसाइटी ने कहा, ’’हमें दस्तकारी हाट समिति के क्राफ्ट्स बाजार का हिस्सा बनने को लेकर बहुत खुश हूं। यहां मिली प्रतिक्रिया बहुत ही शानदार रहा और हमें अपने ऑर्गेनिक कॉस्मेटिक्स और घरेलू उत्पादों का प्रदर्षन करने का गर्व है जो यहां हमारे यूज़र्स के लिए अच्छे स्वास्थ्य की पेशकश करते हैं।

 

जया जेटली, अध्यक्ष, दस्तकार हाट समिति ने कहा, ’’उद्घाटन बहुत ही खूबसूरत आयोजन था और चंडीगढ़ के लोगों ने बाज़ार के प्रति अच्छी प्रतिक्र्रिया दी। हम कार्यक्रम के पहले ही दिन ऐसी शानदार प्रतिक्रिया देखकर बेहद उत्साहित हैं।’’ ’’

 
Have something to say? Post your comment