Saturday, March 23, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
BJP की गोवा चुनाव समिति की बैठक खत्म, मौजूदा सांसदों को फिर मिला टिकटनई दिल्ली: पाकिस्तान उच्चायोग के बाहर एक शख्स हिरासत में लिया गयाJ-K: सोपोर एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को किया ढेरकर्नाटक के नेता डीके शिवकुमार के सहयोगियों के घर IT के छापे: सूत्रदिल्ली: गोवा के CM प्रमोद सावंत ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से की मुलाकातदिल्ली: सिलेंडर ब्लास्ट से मोंगा नगर की एक इमारत में लगी आग, मौके पर 8 फायर टेंडरजेजेपी के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ का विस्तार, 24 वरिष्ठ पदाधिकारी और 20 जिलाध्यक्ष नियुक्ततेलंगानाः पूर्व राज्यसभा सांसद और कांग्रेस नेता आनंद भास्कर ने पार्टी छोड़ी
Chandigarh

ट्रम्प प्रशासन का ईबी 5 वीजा निवेश राशि में बढ़ोतरी का फैसला

October 27, 2018 08:54 AM

चंडीगढ, देश में डालर्स धारक करोडपतियों की संख्या गत वर्ष की तुलना से 18 फीसदी बढ़कर करीब साढे तीन लाख हो गई है। बावजूद इसके स्थिर अमेरिकी अर्थव्यवस्था, बेहतर शिक्षा और उन्नत जीवनशैली की आस में अमेरिका पलायन करने वाले भारतीय लोगों की संख्या में एकाएक वृद्वि भी दर्ज हुई है । इसी कड़ी में ईबी 5 की अमेरिकी नागरिकता पाने के लिये सबसे तेज और सुनिश्चित तरीका बना दिया है। यह मानना है एजीवी अमेरिका इंवेस्टमेंट्स के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी विक्रम आदित्य कुमार का जो आज चंडीगढ में पत्रकार सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे।

वर्ष 2017 में ईबी 5 के 567 आवेदकों के साथ भारत अब तक का दूसरे सबसे बडा प्राप्तकर्ता (रेसिप्यिेंट) बन गया है। ईबी 5 आवेदको के मामले में भारत दूसरे जिसके बाद चीन वियतनाम, दक्षिण कोरिया है। वर्ष 2013 में यह गिनती 86, वर्ष 204 में 99, वर्ष 2015 में 239, वर्ष 2016 में 348 और वर्ष 2017 में 500 रही है। भारतीय में अधिकतर पंजाबी, अमेरिका जाने के लिये सदैव से प्रेरित रहा है ।किसी भी अप्रिय प्रवेश को रोकने के लिये अमेरिका में भारतीय मिशन ने दो ईमीग्रेशन डिटेंनशन सेंटर के साथ सम्पर्क स्थापित किये हैं जिसमें लगभग 100 भारतीयों, अधिकतर पंजाबियों को अवैद्य रुप से अमेरिका की दक्षिणी सीमा के रास्ते प्रवेश करने के लिये हिरासत में लिया गया है।

प्रैस काफ्रेंस को सम्बोधिक करते हुये युवा अमेरिकी कांग्रेसमैन आरॉन शॉक के अनुसार ने चेताया कि अमेरिका के लिये ईबी 5 वीजा की प्रक्रिया 7 दिसंबर के बाद बिगड सकती है । ट्रम्प प्रशासन के 7 दिसंबर 2018 तक ईबी 5 वीजा के खत्म होने की तारीख बढाने के निर्णय के साथ इस वीजा के लिये आवश्यक निवेश राशि में वृृद्वि होगी जो कि अमेरिकी अर्थव्यव्स्था को ओर अधिक सुधारने के लिये है। अमेरिकी नागरिका हासिल करने के इच्छुक निवेशकों के लिये अपने आवदेनों को दाखिल करने की प्रक्रिया को आगे बढाने का यह सबसे अच्छा अवसर हो सकता है।

 
Have something to say? Post your comment