Friday, March 22, 2019
Follow us on
Haryana

हरियाणा का हिस्ट्री शीटर तारखां गांव निवासी सुनील जींद में गिरफतार

October 26, 2018 04:56 PM

हरियाणा पुलिस द्वारा गुप्त सूचना के आधार पर जींद कोर्ट के पास से हरियाणा का हिस्ट्री शीटर सुनील को 6 अवैध पिस्टल व 5 मैग्जिन हथियारों सहित गिरफतार करने में बड़ी कामयाबी हासिल की हैं । 

पुलिस विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि पकडा गया आरोपी सुनील गांव तारखा का निवासी है, जो कुख्यात अपराधी सतबीर उर्फ झब्बल गैंग का गुर्गा है। आरोपी के खिलाफ राजस्थान, हिसार, जींद व हरियाणा के अलग अलग थानों में हत्या, हत्या का प्रयास, गिरोह बंदी, लूटपाट व आम्र्ज एक्ट के तहत 36 मामलें दर्ज हैं।

उन्होंने बताया कि पुलिस महानिदेशक, श्री बी0 एस0 संधू ने अपराध दर को कम करने के लिए जींद पुलिस द्वारा किए गए निरंतर प्रयासों की सराहना की और कहा कि सभी जिला पुलिस अधीक्षक अपने संबंधित क्षे़त्रों में खुफिया तंत्र को और सुदृढ करें ताकि कुख्यात अपराधियाे की पहचान कर जल्द से जल्द उन्हें सलाखों के पीछे भेजा जा सके। 

प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी ने खुलासा किया कि झब्बल के कहने पर ही यह अवैध हथियार अपने गुर्गो को देने के लिए आया था तथा गुर्गो के द्वारा जींद में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की तैयारी थी। डिटेक्टिव स्टाफ को गुप्त सूचना मिली की एक युवक  अवैध हथियारों के साथ जींद कोर्ट परिसर के आसपास आने वाला है पुलिस ने सूचना मिलते ही आरोपी को मौके से ही अवैध 6 पिस्टल व 5 मैग्जिन सहित गिरफतार कर लिया । 

  प्रवक्ता ने बताया कि आरोपी सुनील लगभग 18 माह पहले जींद जेल में गया था। वहां उसकी मुलाकात जेल में बंद कुख्यात अपराधी सतबीर उर्फ झब्बल से हुई। जबकि सुनील पहले प्रदीप जमावड़ी गैंग का सदस्य था फिर वह जेल में ही झब्बल गैंग का सदस्य बन गया । कुछ समय बाद सुनील जेल से बाहर आ गया और झब्बल कुरूक्षेत्र जेल चला गया । झब्बल कुरूक्षेत्र जेल से ही गैंग को ओपरेट कर रहा था और उसके कहे अनुसार सुनील ने सभी उपरोक्त हथियार व मैग्जिन मध्यप्रदेश से मंगवाए थे जिनकी कीमत लगभग 5 लाख रूपये हैं । उन्होंने बताया कि सुनील ने यह सभी अवैध हथियार झब्बल के बताए अनुसार उसके गुर्गो को देने थे उसके बाद जींद में किसी बड़ी वारदात को अंजाम दिया जाना था लेकिन उससे पहले ही आरोपी डिटेक्टिव स्टाफ पुलिस के हत्थे चढ़ गया । 

  पुलिस आरोपी को अदालत में पेश कर रिमांड पर लेगी ताकि अन्य वारदातों का खुलासा किया जा सके ।   

 
Have something to say? Post your comment