Sunday, January 20, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
24 जनवरी को जिले के प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महाविद्यालय में चुनावी डयूटी पर तैनात कर्मियों की रिहर्सल करवाई जाएगीमध्य प्रदेश : मंदसौर में टायर फैक्टरी में आग, 4 मजदूर झुलसे गुजरात में 4.1 तीव्रता का भूकंप, 7 घंटे के भीतर चार हल्के झटकेमहाराष्ट्र के पालघर में 3.6 तीव्रता का भूकंप, गुजरात में भी झटकेउपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने की हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की कार्यशैली की प्रशंसाहरियाणा प्रदेश में उद्योग लगाने के लिए खुले मन से आएं उन्हें प्रदेश सरकार की ओर से हर तरह से अनुकूल माहौल दिया जाएगा:मनोहर लाल सोमालिया : अमेरिकी हवाई हमले में अल-शबाब के 52 आतंकवादी ढेरविपक्ष के पास धनशक्ति, हमारे पास जनशक्ति: बीजेपी कार्यकर्ताओं से बोले पीएम मोदी
Haryana

अन्तर्राष्ट्रीय लोक उत्सव 27 सितंबर को इन्द्रधनुष सभागार में सायं पांच बजे

September 21, 2018 04:58 PM

प्रदेश के इतिहास में पहली बार सांस्कृतिक आदान-प्रदान की दिशा में एक एतिहसिक कार्यक्रम पंचकुला में आयोजन होने जा रहा है। जिसमें हरियाणवीं धमाल और गायन के साथ-साथ एशिया व यूरोप के अनेकों देशों के लगभग चार सौ कलाकार अपने-अपने देश का लोक नृत्य प्रस्तुत करेंगे। इन सभी कलाकारों का स्वागत ढोल, नगाडे, तासे, बीन, तुम्बे, ढपली आदि वाद्ययंत्रों को बजाने वाले मंजे हुए कलाकारों द्वारा किया जायेगा। ये सभी कलाकार इन्द्रधनुष सभागार के परिषर में विदेशी महमानों को हरियाणवीं लोक वाद्ययंत्रों की मधुर स्वर लहरियों से स्वागत करेंगे।  
    इस कार्यक्रम के समन्वयक व रिजनल डायरेक्टर (हरियाणा कला परिषद) गजेंद्र फौगाट ने यह जानकारी देते हुए बताया कि ये कार्यक्रम प्रदेश सरकार द्वारा कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग, चंडीगढ़ विश्वविद्यालय व रीदम ग्रुप के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में जर्मनी, चीन, ब्राजील, रूस, इटली, साउथ कोरिया, साउथ अफ्रीका, यूक्रेन, थाईलैंड, टरकी, कोलम्बियां, सिंगापुर, चेकगणराज्य समेत कई देशों के कलाकार लोक नृत्यक व नृत्यकियां हिस्सा लेंगे। कार्यक्रम में राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त हरियाणवीं लोक नृत्य धमाल की भी प्रस्तुति की जायेगी जिससे हरियाणा के मंजे हुए कलाकार सांस्कृतिक कार्य विभाग के निर्देशन में प्रस्तुत करेंगे।
    फौगाट ने बताया कि यह कार्यक्रम पंचकुला के इन्द्रधनुष सभागार में सायं पांच बजे शुरू होगा तथा इसका समापन्न सायं आठ बजे किया जायेगा। कार्यक्रम के आयोजन के लिए कला एवं सांस्कृतिक विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती धीरा खंडेलवाल, विभाग के निदेशक महेश्वर शर्मा, चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के छात्र कल्याण निदेशक प्रो. अरविंद्र सिंह कंग व अतिरिक्त निदेशक मनीष जांगड़ा व रिदम के निदेशक श्रीमान कई दिनों से कार्यक्रम की सफलता के लिए प्रयत्नरत है। 
    गजेंद्र फौगाट ने प्रदेश के नागरिकों को आह्वान किया है कि वे बढ़चढ़ कर प्रदेश के इस पहले एतिहासिक समारोह में शामिल होकर विभिन्न देशों की अलग-अलग लोक संस्कृतियों के साथ-साथ हरियाणवीं लोक संस्कृति के मिश्रण का आनंद उठाये। 

 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
24 जनवरी को जिले के प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महाविद्यालय में चुनावी डयूटी पर तैनात कर्मियों की रिहर्सल करवाई जाएगी उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने की हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की कार्यशैली की प्रशंसा हरियाणा सरकार ने किया एचएसएससी ग्रुप डी का रिजल्ट घोषित किया Vadodara:Protests mar foundation laying ceremony of Haryana Bhavan Haryana govt to send its list of 10 to UPSC, soon Punjab-Stage set for Kejriwal’s event in Malwa today JIND - घर पहुंचे विपुल-कविता को मांगेराम ने दुलार किया, समर्थन पर चुप PANIPAT हैंडलूम एसो. चुनाव की लड़ाई पहुंची सड़क पर, दोनों गुटों में गाली-गलौज, हाथापाई की आई नौबत HARYANA-प्रति एकड़ 30500 रु. का निकल रहा आलू, लागत मूल्य है 40 हजार HR CM CITY KARNAL-बदमाश नहीं पकड़े तो तेरहवीं को जीटी रोड जाम की धमकी, विधायकों के हस्तक्षेप पर माने परिजन