Thursday, January 17, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
छत्रपति हत्याकांड में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम , कृष्ण लाल, निर्मल सिंह और कुलदीप सिंह को सीबीआई कोर्ट ने उम्र कैद की सजा और पचास-पचास हजार का जुर्माना भी देना होगा पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केस:थोड़ी देर में राम रहीम की सजा पर फैसला आने की संभावनाबुलंदशहरः गुब्बारा भरने वाले गैस सिलेंडर ब्लास्ट, एक दर्जन से ज्यादा बच्चे झुलसेपंचकूला में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केसः कोर्ट में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जारीपत्रकार हत्याकांड: CBI ने राम रहीम को फांसी देने की मांग कीजस्टिस दिनेश महेश्वरी और संजीव खन्ना कल लेंगे SC के न्यायमूर्ति पद की शपथबीमारी का इलाज है, पर कांग्रेस नेताओं की सोच का इलाज नहीं: पीयूष गोयलPM मोदी ने वाइब्रेंट गुजरात समिट का उद्घाटन किया
Haryana

हरियाणा पुलिस ने सिरसा से एक आरोपी को लाखों रुपयों के 200 किलोग्राम डोडापोस्त के साथ गिरफतार किया

September 05, 2018 05:57 PM

पंचकूला -5 सितम्बर - हरियाणा पुलिस ने ड्रग व नशीली दवाइयों के तस्करों पर आज एक और ‘प्रबल प्रहर‘ करते हुए जिला सिरसा से एक आरोपी को लाखों रुपयों के 200 किलोग्राम डोडापोस्त के साथ गिरफतार किया है। 

  पुलिस विभाग के प्रवक्ता ने आज इस संबध में जानकारी देते हुए बताया कि पकडे गए आरोपी की पहचान गुरदेव सिंह निवासी गांव मसींता जिला सिरसा के रूप में हुई है। सीआईए की एक पुलिस टीम को महत्त्वपूर्ण सूचना मिली कि गुरदेव सिंह ने अपनी ढाणी के पीछे तुङी के ढेर में डोडापोस्त के कट्टे छिपा रखे है। सूचना पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम ने आरापी को काबू करके तुङी के ढेर की तलाशी ली, जहां से 10 प्लास्टिक कट्टों में से लाखों रुपयों का 200 किलोग्राम डोडा पोस्त बरामद हुआ। 

  इस संबंध में शहर डबवाली थाना में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज कर लिया गया है। पकड़े गये आरोपी को अदालत में पेश कर रिमांड लिया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान विस्तार से पूछताछ कर तस्करी के इस नेटवर्क से जुड़े अन्य लोगों की पहचान कर उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

एक अन्य मामले में डकैती के घटना में पिछले 18 साल से घटना के समय से ही फरार चल रहें मोस्ट वांटेड को सिरसा पुलिस ने महत्त्वपुर्ण सुराग जुटाते हुए गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी प्रेम सिंह उर्फ विक्रमजीत सिह निवासी थेड़ी जीवन नगर के खिलाफ 27 अगस्त 2000 को रानियां थाना में भादसं की धारा 392/395/506 व शस्त्र अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज हुआ था और उसे इस मामले मे 14 दिसम्बर 2000 को सिरसा अदालत ने पी.ओ.घोषित किया था।  पकड़े गए आरोपी के खिलाफ रानियां थाना में एक और अभियोग दर्ज किया गया है। आरोपी को अदालत में पेश किया जाएगा।

 
Have something to say? Post your comment