Thursday, January 17, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
छत्रपति हत्याकांड में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम , कृष्ण लाल, निर्मल सिंह और कुलदीप सिंह को सीबीआई कोर्ट ने उम्र कैद की सजा और पचास-पचास हजार का जुर्माना भी देना होगा पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केस:थोड़ी देर में राम रहीम की सजा पर फैसला आने की संभावनाबुलंदशहरः गुब्बारा भरने वाले गैस सिलेंडर ब्लास्ट, एक दर्जन से ज्यादा बच्चे झुलसेपंचकूला में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केसः कोर्ट में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जारीपत्रकार हत्याकांड: CBI ने राम रहीम को फांसी देने की मांग कीजस्टिस दिनेश महेश्वरी और संजीव खन्ना कल लेंगे SC के न्यायमूर्ति पद की शपथबीमारी का इलाज है, पर कांग्रेस नेताओं की सोच का इलाज नहीं: पीयूष गोयलPM मोदी ने वाइब्रेंट गुजरात समिट का उद्घाटन किया
Haryana

इस राज में बाहर होने से बेहतर है जेल: चौटाला

May 31, 2018 07:00 AM

इस राज में बाहर होने से बेहतर है जेल: चौटाला

संवाद सहयोगी, डबवाली (सिरसा) : पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला बुधवार को अपने पैतृक गांव चौटाला पहुंचे। करीब आधा घंटा तक ग्रामीणों से बातचीत कर हालात जाना। कृषि, व्यापारियों से लेकर राजनीतिक चर्चा की। 1इस मौके पर ग्रामीणों ने कहा कि वे जेल से उनके जल्द वापस आने की दुआ मांगते हैं तो पूर्व मुख्यमंत्री भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि वे किसी शादी में नहीं गए, जो वापस आ जाएंगे। हालांकि इस राज में बाहर होने की अपेक्षा जेल में ही बेहतर हूं। नवंबर 2018 में चुनाव होने हैं। आपका राज बनाने के लिए जरूर आऊंगा। 1पूर्व मुख्यमंत्री ने कृषि के बारे पूछा तो किसानों ने कहा कि नहरों में पानी अब आया है। पहले महंगा तेल फूंककर भूजल से नरमा की बिजाई की है। एक व्यापारी ने जीएसटी का जिक्र छेड़ा तो उन्होंने कहा कि गलत लोगों की सरकार है, इसलिए गलत टैक्स लगाया है। अब तो केवल चार माह की बात है, फिर थारा राज ही आ जाएगा। चौटाला के साथ पूर्व विधायक डॉ. सीता राम आदि मौजूद रहे।1ग्रामीण बोले, गांव में फैल गया है नशा, इसका हल होना चाहिए1पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के सामने ग्रामीणों ने नशे का मुद्दा उठाया। ग्रामीणों ने कहा कि बहुत से युवा नशे की चपेट में आ चुके हैं। इसका हल होना चाहिए। चौटाला ने इस संबंध में पुलिस कप्तान से बातचीत करके कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया।संवाद सहयोगी, डबवाली (सिरसा) : पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला बुधवार को अपने पैतृक गांव चौटाला पहुंचे। करीब आधा घंटा तक ग्रामीणों से बातचीत कर हालात जाना। कृषि, व्यापारियों से लेकर राजनीतिक चर्चा की। 1इस मौके पर ग्रामीणों ने कहा कि वे जेल से उनके जल्द वापस आने की दुआ मांगते हैं तो पूर्व मुख्यमंत्री भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि वे किसी शादी में नहीं गए, जो वापस आ जाएंगे। हालांकि इस राज में बाहर होने की अपेक्षा जेल में ही बेहतर हूं। नवंबर 2018 में चुनाव होने हैं। आपका राज बनाने के लिए जरूर आऊंगा। 1पूर्व मुख्यमंत्री ने कृषि के बारे पूछा तो किसानों ने कहा कि नहरों में पानी अब आया है। पहले महंगा तेल फूंककर भूजल से नरमा की बिजाई की है। एक व्यापारी ने जीएसटी का जिक्र छेड़ा तो उन्होंने कहा कि गलत लोगों की सरकार है, इसलिए गलत टैक्स लगाया है। अब तो केवल चार माह की बात है, फिर थारा राज ही आ जाएगा। चौटाला के साथ पूर्व विधायक डॉ. सीता राम आदि मौजूद रहे।1ग्रामीण बोले, गांव में फैल गया है नशा, इसका हल होना चाहिए1पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के सामने ग्रामीणों ने नशे का मुद्दा उठाया। ग्रामीणों ने कहा कि बहुत से युवा नशे की चपेट में आ चुके हैं। इसका हल होना चाहिए। चौटाला ने इस संबंध में पुलिस कप्तान से बातचीत करके कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया।

 
Have something to say? Post your comment