Saturday, August 24, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
अरुण जेटली के निधन के बाद हैदराबाद से दिल्ली लौट रहे हैं गृह मंत्री अमित शाहदिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता अरुण जेटली का एम्स में निधनअर्थव्यवस्था नहीं है स्टाक मार्केटपूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम को ईडी मामले में राहत, SC ने लगाई सोमवार तक गिरफ्तारी पर रोकफ्रांस के मंदिरों में जन्माष्टमी की धूम, पेरिस के इस्कॉन में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़जन्माष्टमी के अवसर पर सभी देशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं : राष्ट्रपति राम नाथ कोविंदसभी देशवासियों को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं, जय श्रीकृष्ण : PM मोदीआतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत-यूएई साथ-साथः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
 
Haryana Crime

ऑफर था, ठूसे चिली बर्गर, फटा पेट यह घटना उन युवाओं के लिए

July 10, 2017 06:36 AM

COURSTEYNAVBHARAT TIMES JULY10
ऑफर था, ठूसे चिली बर्गर, फटा पेट
यह घटना उन युवाओं के लिए

 

एक तरह से चेतावनी है कि जो

बिना सोचे-समझे फूड कॉम्पिटिशन में शामिल हो जाते हैं।-डॉ. दीप गोयल
Rahul.Anand@timesgroup.com

नई दिल्ली : राजधानी स्थित एक रेस्ट्रॉन्ट ने चिली बर्गर खाने का कॉम्पिटिशन रखा। ऑफर था, जो सबसे ज्यादा खायेगा उसे एक महीने तक रेस्ट्रॉन्ट में फ्री खाना मिलेगा। दिल्ली यूनिवर्सिटी के एक स्टूडेंट ने इसमें बाजी मार ली, लेकिन इस चक्कर में उसके पेट का अंदरूनी हिस्सा फट गया। स्टूडेंट को पेट की सर्जरी करानी पड़ी और लिक्विड डाइट पर रहना पड़ा।

डीयू में सेकेंड ईयर के स्टूडेंट गर्व गुप्ता ने बताया कि राजोरी गार्डन स्थित रेस्ट्रॉन्ट में हुए इस कॉम्पिटिशन में उन्होंने अपने दोस्तों के साथ हिस्सा लिया था। उन्होंने कहा कि सबसे ज्यादा बर्गर मैंने खाए, लेकिन दूसरे दिन मुझे दिक्कत होने लगी। इसके बाद खून की उल्टी होने से मैं डर गया। जब डॉक्टर के पास गया तो पता चला कि चिली बर्गर की वजह से मेरे पेट का यह हाल हुआ है। गर्व जब इलाज के लिए बीएलके सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल पहुंचे तो डॉक्टर भी हैरान थे।

डॉक्टर दीप गोयल ने बताया कि इंडोस्कोपी से पता चला कि उनके पेट की इनर लाइनिंग फट गई है। लाइनिंग का जितना एरिया फट गया था, उसे सर्जरी के जरिए बाहर निकाला गया। जो बच गया था उसे ठीक करने के लिए दवा दी गई।
डीयू स्टूडेंट को करानी पड़ी पेट की सर्जरी, दो दिन तक ली लिक्विड डाइट
लेने के पड़े देने
ध्यान रखें
डॉक्टर गोयल ने बताया कि इनर लाइनिंग पेट को प्रोटेक्ट करती है, इसलिए इसे प्रोटेक्टिव लाइनिंग भी कहा जाता है। यह पेट के अंदर स्टमक एसिड बनाता है। हार्मोन और इंजाइम प्रोड्यूस करता है। पेट को इन्फेक्शन से भी बचाता है। इसके खराब होने से पेट के अंदर बहुत सारी समस्याएं हो सकती हैं, इसलिए इसे सेव करना जरूरी होता है।


डॉक्टर दीप गोयल ने बताया कि चिली एसिटिक होता है और यह एसिडिटी बनाता है। बहुत ज्यादा मात्रा में चिली के यूज की वजह से लाइनिंग पर डायरेक्ट असर होता है। पेट के अंदर डैमेज होने के मामले तो आते रहते हैं, चाहे अल्सर की वजह से हो या फिर बहुत ज्यादा शराब पीने की वजह से। लेकिन पहली बार चिली बर्गर खाने से लाइनिंग फटने का मामला सामने आया है।
इनर लाइनिंग अहम


चिली से बनती है एसिडिटी

Have something to say? Post your comment
More Haryana Crime News
नाई की दुकान पर कटिंग करवाने गए होमगार्ड की पड़ोसी ने गोली मारकर की हत्या
करनाल:नई अनाज मंडी में मुंशी से दो बाइक सवार ने गन प्वाइंट पर चार लाख रुपये लूटकर फरार हुए इसराना में राज्य स्तर के कुश्ती प्लेयर की चाकू तलवारो से गोदकर हत्या की
अम्बाला:गैंगस्टर रणदीप राणा के पिता को अज्ञात 4 मारुति सवार युवकों ने गोली मारकर की हत्या
फरीदाबाद / मीडियाकर्मी के बेटे की दिनदहाड़े हत्या, बाइक पर आए हमलावरों ने चाकूओं से गोदा
करनाल अमृतधारा हॉस्पिटल के मालिक डॉक्टर राजीव गुप्ता पर चलाई गोलिया,राजीव गुप्ता की हुई मौत
हरियाणा में बेखौफ अपराधी,कांग्रेस नेता विकास चौधरी को मारी गोलियां
GURGAON-Three burglaries in one week rock Sector 57 Crime spurt: 11 murders in Sonepat in three weeks PANIPAT- सिटी थाने से 100 मीटर दूर शोरूम में दीवार ताेड़ 6 लाख के मोबाइल चोरी